Poem on Grandmother in hindi

Hindi poem on grandmother – इस पूरी दुनिया में कोई भी आपको अपनी नानी जैसा प्यार नहीं कर सकता। यह महाकाव्य कविता मेरी नानी को समर्पित है।

नानी सा प्यार

कोई दे सकता है क्या यार?

वो बैग में भरी टॉफ़ी,

जिनका फ्लेवर था कच्चा आम

और कॉफी,

क्या दे सकता है कोई यार?

Hindi Poem on grandmother

 

कोन करेगा अब नानी सा प्यार?

चार बजे के दूध और Parle-G

काका की दुकान से जो आते थे जी,

वो आलू के मोटे भरे पराठे

जिनके मेरे पापा थे दीवाने,

अब हमें कौन देगा नानी जी?

अब कोन करेगा तुमसा प्यार नानी

जी?

नाना से छुपके देती थी तुम पैसे,

मना हम करते केसे?

जो कुछ तुमने दिया वो सब रुलाता

है,

तुम्हारे और साथ के लिए दिल को

तड़पाता हैं!

अब कौन भरेगा हमारी जेबें?

hindi poem on grand mother

 

वो टॉफी से जो छुपाती थी तुम

सेफ में।

अब कौन करेगा नानी सा प्यार?

भगवन, दे दो मेरी नानी वापस से यार

🙏

जब आता था समय जाने का,

तुम सोचती थी रोकने का बहाना

फालतू १५ मिनट के लिए तुम

क्या क्या करती

चलते चलते भी चाय पिलवा देती!

अब कौन हमें ऐसे रोकेगा?

अब कौन हमसे हमारा हाल

पूछेगा?

अब कौन हमें वो प्यार देगा?

कोई है? जो मुझे मेरी नानी वापस

दे देगा?

वो बंगलोर की यादें हो रहीं हैं

ताज़ा,

जब तुमने दिलाई थी मुझे, बड़ी

वाली माज़ा।

कैसे भूल जाऊ वो गड्डा

Hindi Poem on grand mother

 

वो ग़ुबारे

वो कचौड़ी

वो आशीर्वाद

वो जन्मदिन की शुभकामनाएं

वो सब यादें

तुम्हारे बिन ज़िन्दगी लगती है सज़ा

अब कौन बनेगा हमारा आसरा,

अब कौन देगा अपनी गोद में

अशरा,

अब कौन देखेगा हमारी राह?

अब कौन याद करेगा हमें हर

माह?

कौन देगा वो नानी सा प्यार,

कौन करेगा वो नानी सा प्यार?

एक शिकायत है तुमसे,

जल्दी चली गई हो घर से।

जो इच्छा थी तुम्हारी, वो रह गई

अधूरी।

मेरी शादी में नाचने की इच्छा

करेगा कौन पूरी?

मैं अब अपनी पहली तनख्वा

की साड़ी किसको दू?

अब नानी सा आशीर्वाद किसे लू?

नानू के बुढ़ापे का साथी अब कौन

बनेगा?

तुम्हारा साथ उन्हें हर दम खलेगा।

नानी सा प्यार अब हमें कौन देगा?

हमारी तरफ़दारी अब कौन करेगा?

हमें डांट से अब कौन बचाएगा?

नानी सा प्यार अब कौन देगा?

Story in Hindi

आपके विचार हमारे लिए अनमोल हैं। कृपया बेझिझक हमें कमेंट सेक्शन में कविता पर अपने विचार या प्रतिक्रियाएँ बताएं।
आप हमसे यहाँ भी संपर्क कर सकते हैं-हमसे संपर्क करें

7 thoughts on “Hindi Poem on Grandmother || नानी पर कविता”

    1. हम आभारी हैं कि आपको हमारी कविता पसंद आई। अपने विचारों को बांटने के लिए धन्यवाद।

    1. हम आभारी हैं कि आपको हमारी कविता पसंद आई। अपने विचारों को बांटने के लिए धन्यवाद।

  1. नानी सा प्यार कोई नही दे सकता।यह सच है

  2. मैं जब जब ये कविता पढ़ती हूँ मेरी आखें भर आती हैं अति सुंदर प्रस्तुति

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *